प्रेग्नेंसी रोकने के लिए 13.9 करोड़ महिलाएं कर रही हैं इन आधुनिक तरीकों का इस्तेमाल

ग्लोबल स्तर पर महिलाओं और लड़कियों के प्रेग्नेंसी (Pregnancy) के अधिकारों का समर्थन करने वाला समूह ‘एफपी2020` ने मंगलवार को एक रिपोर्ट जारी की है. इस रिपोर्ट में यह सामने आया है कि भारत में 13.9 करोड़ से अधिक महिलाएं प्रेग्नेंसी से बचाव के लिए आधुनिक तरीकों का इस्तेमाल करती हैं.

मंगलवार को  ‘एफपी2020’ ने एक रिपोर्ट जारी की है जिसके अनुसार भारतीय महिलाओं (Indian Womens) से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आई है. इस नई रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत में करीब 13.9  करोड़ से अधिक महिलाएं और लड़कियां पहले के मुकाबले प्रेग्नेंसी (Pregnancy) से बचाव के लिए आधुनिक तरीकों का इस्तेमाल करती हैं.

बता दें कि महिलाओं और लड़कियों के प्रेग्नेंसी के अधिकारों का समर्थन करने वाले ग्लोबल स्तर का समूह ‘एफपी2020' की रिपोर्ट में बताया गया है कि पिछले 8 सालों में Family Planning को लेकर आधुनिक तरीकों का इस्तेमाल किया गया है. इसके अलावा रिपोर्ट में यह भी सामने आया है कि दुनियाभर के कम आय वाले 13 देशों में गर्भनिरोधक (Contraceptive) के आधुनिक तरीकों का उपयोग किया जा रहा है. 2012 के बाद से इन देशों में आधुनिक तरीकों का इस्तेमाल दोगुना हो चुका है.

पिछले साल 12.1 करोड़ से अधिक अनवांटेड प्रेग्नेंसी, 2.1 करोड़ अनसेफ अबॉर्शन और 1,25,000 प्रेग्नेंट महिलाओं की मौत को रोका गया. वहीं  पिछले एक वर्ष में देश में 5.45 करोड़ से अधिक अनवांटेड प्रेगनेंसी, 18 लाख से ज्यादा  अनसेफ अबॉर्शन और 23,000 गर्भवती महिलाओं की मृत्यु होने से रोका गया.

Enjoyed this article? Stay informed by joining our newsletter!

Comments

You must be logged in to post a comment.